fbpx

असम NRC मामले की आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, ये बातें आ सकती है सामने

Author

Categories

Share

असम NRC मामले की आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, ये बातें आ सकती है सामने

सुप्रीम कोर्ट आज असम NRC मामले की सुनवाई करेगा। इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने NRC समन्वयक प्रतीक हजेला को मध्य प्रदेश स्थानांतरित करने का आदेश दिया था। उनके स्थानांतरण का कारण नहीं बताया गया था, लेकिन यह माना जाता था कि हजेला की सुरक्षा आदेश का मुख्य कारण थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एनआरसी डेटाबेस की गोपनीयता बरकरार रखी जाएगी।

असम NRC - ASSAM

इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने असम NRC के अंतिम मसौदे की तैयारी की समय सीमा 31 जुलाई से 31 अगस्त तक बढ़ा दी थी। केंद्र और राज्य सरकार ने सीमावर्ती जिलों में 20% पुन: जांच की मांग की थी।

30 जुलाई, 2019 को जारी NRC के अंतिम मसौदे में लगभग 40 लाख लोगों को छोड़ दिया गया था। SC ने यह स्पष्ट किया था कि अपना दावा प्रस्तुत करते समय, व्यक्ति को दस में से एक या एक से अधिक दस्तावेज दिखाने होंगे। शीर्ष अदालत ने हजेला को 15 दिनों के भीतर शेष पांच दस्तावेजों के उपयोग पर अपनी बात रखने को कहा है।

असम NRC - ASSAM

सरकार की तरफ से अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने यह कहते हुए सभी 15 दस्तावेजों को आधार बनाने की अनुमति मांगी थी कि असम के अधिकांश लोग गाँवों में रहते हैं और कम पढ़े-लिखे हैं, जिन्हें इस सूची में शामिल नहीं किया गया है, उन्हें हिस्सेदारी का एक और मौका मिलना चाहिए। शीर्ष अदालत ने कहा कि किसी को दोबारा मौका नहीं मिलना चाहिए, मामला केवल दस्तावेजों की जांच करने का है, लेकिन मामले की गंभीरता को देखते हुए एक और मौका दिया जा रहा है।

आपको बता दे सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अदालत जिन पांच दस्तावेजों को अनुमति नहीं देना चाहती है, वे दस्तावेज हैं जो जाली हो सकते हैं। बाकी के शेष दस दस्तावेज सरकारी एजेंसी की तरफ से जारी होने चाहिए थे।

Author

Share