fbpx

बीजेपी ने दी बंगाल में राष्ट्रपति शासन की चेतावनी, कार्रवाई नहीं की तो

Author

Categories

Share

बीजेपी ने दी बंगाल में राष्ट्रपति शासन की चेतावनी, कार्रवाई नहीं की तो

भाजपा के नेता राहुल सिन्हा ने कहा कि अगर नागरिकता संशोधन अधिनियम पर हिं’सा को रोका नहीं जायेगा तो पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करना ही एकमात्र विकल्प होगा।

बीजेपी ने दी पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन की चेतावनी

उन्होंने आगे कहा कि राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने बयानों से राज्य में “बांग्लादेशी मुस्लिम घुसपैठियों और गैर-शांति प्रेम करने वाले समुदाय को उकसा रही थीं”, सिन्हा उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के लिए ममता बनर्जी को जिम्मेदार कह रहे है।

उन्होंने आगे कहा “भाजपा कभी राष्ट्रपति शासन का समर्थन नहीं करते हैं।” लेकिन अगर पश्चिम बंगाल में ऐसी अराजकता जारी रहेगी तो हमारे पास राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए कोई दूसरा विकल्प नहीं बचेगा। सिन्हा ने शनिवार को कहा, “टीएमसी सरकार सिर्फ एक दर्शक बन सब कुछ देख रही है जबकि पूरा राज्य जल रहा है।”

लगातार तीसरे दिन बंगाल में हिंसक प्रदर्शन जारी है।

आपको बता दे नागरिक संसोधन बिल के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने सार्वजनिक संपत्ति के साथ तोड़फोड़ की, और पुलिस वाहनों को जला दिया। उत्तर परगना जिले के बशीरहाट में भैयाबाला में CAB और एनआरसी के विरोध में रविवार को रेल रोको आंदोलन शुरू किया गया। सियालदह से हसनाबाद तक भाबला स्टेशन की रेल लाइन पर कांग्रेस कार्यकर्ता बैठ गए। करीब आधे घंटे तक ट्रेनों को रोका गया और बाद में रेलवे पुलिस मौके पर पहुंची तब जाकर प्रदर्शनकारियों को वहां से हटाया।

मुर्शिदाबाद के कृष्णापुर स्टेशन पर भीड़ ने कम से कम चार गाड़ियों में आग लगा दी, रेलवे परिसर में तोड़फोड़ की । हावड़ा और मुर्शिदाबाद में छह-स्टेशन परिसर थे। मुर्शिदाबाद में एक टोल प्लाजा पर भी आग लगा दी गई।

प्रदर्शनकारियों ने मालदह-कटिहार पैसेंजर ट्रेन पर पथराव किया। हालांकि किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं थी।

उन्होंने कई स्थानों पर रेलवे पटरियों को भी उखाड़ दिया, सड़कों को जाम कर दिया, और जलते टायर के साथ राजमार्ग और पुलिस के साथ भिड़ गए। पुलिस वैन और फायर टेंडरों को भी आग लगा दी गई। हावड़ा और खड़गपुर के बीच ट्रेन सेवाएं पूरी तरह से रोक दी गईं।

Author

Share

%d bloggers like this: