fbpx

महाराष्ट्र में शुरू हुआ सत्ता के लिए नंबर्स गेम, शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस VS भाजपा

Author

Categories

Share

महाराष्ट्र में शुरू हुआ सत्ता के लिए नंबर्स गेम, शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस VS भाजपा

शिवसेना-एनसीपी (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) के साथ कांग्रेस के बाहरी समर्थन से महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए सभी एकजुट हो गए हैं, राज्य में 19 दिन से अधिक की राजनीतिक अनिश्चितता खत्म होने की संभावना है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) 105 सीटों के साथ और उसके गठबंधन के सहयोगी शिवसेना 56 सीटों के साथ, शक्ति-साझाकरण और मुख्यमंत्री के बीच अपने मतभेदों को सुलझाने में असमर्थ रही है, यह तब से चल रहा है जबसे 288 सदस्यीय महाराष्ट्र चुनाव का परिणाम आया है.

शिवसेना-एनसीपी

आपको बता दे कि शिवसेना-एनसीपी के गठबंधन के साथ-साथ कुछ निर्दलीय विधायक और कांग्रेस का बाहरी समर्थन महाराष्ट्र विधानसभा में 145 के बहुमत के निशान को आसानी से पार कर जाएगा। इस वक़्त शिवसेना के पास 56 विधायक हैं, यदि 7 निर्दलीय उम्मीदवारों के समर्थन का भी दावा करता है और 54-सदस्यीय एनसीपी और 44-एमएलए मजबूत कांग्रेस के साथ, इस पक्ष में कुल 161 विधायक होंगे। जबकि बहुमत के लिए सिर्फ 146 विधायकों कि आवस्यकता है.

दूसरी ओर, विपक्षी खेमे में भाजपा होगी, जो 105 विधायकों के साथ विधानसभा की सबसे बड़ी पार्टी है, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) 2, बहुजन विकास आघाडी 3, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ( मार्क्सवादी) 1, निर्दलीय 6, जन सुराज शक्ति 1, क्रांतिकारी शेतकरी पार्टी 1, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना 1, किसान और मजदूर पार्टी ऑफ़ इंडिया 1, प्रहार जनशक्ति पार्टी 2, राष्ट्रीय समाज पक्ष 1, समाजवादी पार्टी 2 और स्वाभिमानी पक्ष 1 के साथ विपक्ष 117 पर रहेगा।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के बाद विभिन्न दलों की ताकत इस प्रकार है:

शिवसेना-एनसीपी आपको बताते चले शिवसेना महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में अपने नेता होने के बारे में अडिग रही है, एक ऐसी मांग जिसे भाजपा ने सिरे से खारिज कर दिया था। भाजपा नेतृत्व यह संकेत दे रहा है कि पार्टी के पास महाराष्ट्र विधानसभा में अकेले सबसे बड़े होने के कारण मुख्यमंत्री पद का अधिकार है और वो इस बात से इनकार कर रहे है कि चुनाव से पहले उनके और शिवसेना के मध्य मुख्यमंत्री पद के लिए 50:50 के फार्मूले पर सहमत हुई थी।

Author

Share

%d bloggers like this: