fbpx

ज्योतिरादित्य सिंधिया का नया बयान, मध्यप्रदेश के बाद अब इन्हें कहा तैयार रहने को

Author

Categories

Share

ज्योतिरादित्य सिंधिया का नया बयान, मध्यप्रदेश के बाद अब इन्हें कहा तैयार रहने को

मध्यप्रदेश में सियासी हलचल के बारे में आज किसको पता नहीं है. ज्योतिरादित्य सिंधिया के 10 तारीख को कांग्रेस से दिए इस्तीफे को लेकर मध्यप्रदेश की राजनीती पहले ही सुर्ख़ियों में तो थी ही. उसके बाद सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद ये और ज्यादा तेज हो गई. मध्यप्रदेश में जहां एक तरफ भाजपा पूरी कोशिश कर रही है सरकार बनाने की तो वहीँ कांग्रेस और मुख्यमंत्री कमलनाथ भी अपनी सरकार बचाने का हर मुमकिन प्रयास कर रहे हैं.

ज्योतिरादित्य सिंधिया का नया बयान, मध्यप्रदेश के बाद अब इन्हें कहा तैयार रहने को

ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद से कयास लगाए जा रहे हैं कि मध्य प्रदेश से वर्तमान कांग्रेस की कमलनाथ सरकार का गिरना तय है. दूसरी तरफ कमलनाथ भी अपनी बात पर अड़े हुए हैं और दावा कर रहे हैं कि उनके पास अभी भी पूर्ण बहुमत है और वो फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हैं. फ्लोर टेस्ट को लेकर प्रतिदिन संशय बना हुआ है क्योंकि मध्य प्रदेश विधानसभा 24 तारीख तक स्थगित कर दी गई है. पूर्ण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बात से निराश होकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. इस मामले पर सुनवाई कल 18 मार्च को सुबह 10:30 बजे रखी गई है.

प्रतिदिन दोनों ही पक्ष से दिग्गज नेता बयानबाजी करने से बाज नहीं आ रहे. ऐसे में अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने फिर कांग्रेस को चिंता में डाल दिया है. उन्होंने अब एक ऐसा बयान दे दिया है जिसके बाद कांग्रेस को अपनी सरकार न केवल मध्य प्रदेश में बचानी है बल्कि दूसरे राज्यों में भी उन्हें अब सरकार बचाने पर ध्यान देना होगा. सिंधिया ने ट्विटर पर बयान देते हुए लिखा है कि “मध्यप्रदेश हुई हमारी, राजस्थान, महाराष्ट्र की करो तैयारी…!!

जय श्री राम !!”

ज्योतिरादित्य सिंधिया का नया बयान, मध्यप्रदेश के बाद अब इन्हें कहा तैयार रहने को
इस बयान के आने के बाद से कांग्रेस के लिए चिंता करना स्वाभाविक हो गया है. सिंधिया कांग्रेस के युवा चेहरे थे और वो अब भाजपा में शामिल हो चुके हैं तो ऐसे में सिंधिया के शब्द राजस्थान से सचिन पायलट तो महाराष्ट्र से उद्धव ठाकरे की तरफ इशारा कर रहे हैं.

आप भी अपनी राय साझा कीजिये कि “क्या मध्यप्रदेश में कांग्रेस अपनी सरकार बचाने में कामियाब हो जाएगी?”

Author

Share