इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते है सोना- चाँदी के गहने, जाते ही हो जायेंगे धनवान

इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते है सोना- चाँदी के गहने, जाते ही हो जायेंगे धनवान

हमारे भारत देश में अनेको ऐसे मंदिर है, जो अनोखी परम्पराओ के कारण बहुत प्रसिद्द है. ऐसा ही एक अनोखा मंदिर मध्य प्रदेश के माणक में स्थित है. यह एक ऐसा अनोखा मंदिर है जहाँ पर आये हुए भक्तो को किसी भी प्रकार की मिठाई या खाने की चीज नहीं बल्कि मंदिर में प्रसाद के रूप में गहने दिए जाते है. यहाँ जो भी भक्त मंदिर में दर्शन के लिए आता है वो अपने साथ सोने और चाँदी के सिक्के लेकर घर जाता है.

इस मंदिर प्रसाद के रूप में मिलते है सोना- चाँदी के गहने, जाते ही हो जायेंगे धनवान

रतलाम में स्थित यह मंदिर माँ महालक्ष्मी का है, जिसमे सालो से भक्तो की भीड़ जमा रहती है. इस मंदिर में करोडो रुपये के गहने और नकदी चढ़ाया जाता है.

इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते है सोना- चाँदी के गहने, जाते ही हो जायेंगे धनवान

हर वर्ष दीपावली के मौके पर धनतेरस से लेकर पांच दिनों तक दीपोत्सव का आयोजन किया जाता है. इस अवसर पर इस मंदिर में फूलो से नहीं बल्कि सोने चाँदी के गहनों और रुपयों से सजाया जाता है.

हर वर्ष दीपावली के अवसर पर इस मंदिर में धन कुबेर का दरबार लगाया जाता है. इस दौरान जितने भी लोग वहाँ आते है उनको प्रसाद स्वरुप गहने और रुपये दिए जाते है. इस दौरान इस मंदिर की सुंदरता देखते बनती है. हर वर्ष देश के अलग अलग कोनो से शर्द्धालु दर्शन के लिए आते है.

इस मंदिर में प्रसाद के रूप में मिलते है सोना- चाँदी के गहने, जाते ही हो जायेंगे धनवान

दीवाली के समय 24 घंटे खुले रहता है मंदिर

दीपावली के शुभ अवसर पर इस मंदिर के कपाट 24 घण्टे खुले रहते है. इस मंदिर के बारे में कहा जाता है की धनतेरस के समय पर यहाँ आई महिलाओ को कुबेर की पोटली दी जाती है. ऐसा कहा जाता है की यहाँ जो भी भक्त आता है वो खाली हाथ नहीं लौटता. प्रसाद के रूप में उन्हें कुछ न कुछ सोने या चाँदी का कुछ जरूर दिया जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: